गाजियाबाद..गणाचार्य के(पिता) छुल्लकश्री का समाधि मरण

क्षुल्लक विश्ववंधसागर-संलेखना पूर्वक समाधि मरण- दमोह जिले के पथरिया में जन्मे परमपूज्य राष्ट्रसंत, युग प्रतिक्रमण प्रवर्तक, दीक्षा सिद्धहस्थ, समाधि सम्राट, गणाचार्य श्री108 विरागसागर महाराज इन दिनों गाजियाबाद के कवि नगर में विराजमान है। पूज्य गणाचार्य जी के चतुर्विध संघ में सम्मिलित साधुओं में उनके गृहस्थ जीवन के पिता पूज्य क्षुल्लक 105 विश्व वन्धसागर जी महाराज भी यहां पर विराजमान थे। आज  शाम गाजियाबाद के कवि नगर में पूज्यश्री समता पूर्वक समाधि मरण को प्राप्त हुए। परम पूज्य विश्वबंध सागर जी महाराज गणाचार्य श्री के गृहस्थ जीवन के पिता थे। तलवार शाम 5:30 बजे पंच नमस्कार महामन्त्र श्रवण करते हुए बेहद समतापूर्वक समाधिमरण कविनगर गाजियाबाद में हुआ।पूज्य महाराज श्री ने चारों प्रकार के आहार एवं समस्त प्रकार के परिग्रह (लंगोटी दुपट्टा आदि)का भी त्याग कर यम संलेखना धारण कर प्राणों का विसर्जन किया।  इस मौके पर मुनि संघ एवं आर्यिका संघ भी इस अद्भुत समाधि मरण के संयोग का साक्षी रहा। आपको बता दें कि सल्लेखना पूर्वक मरण के इतिहास में ऐसे अवसर विरले ही आते हैं। बुधवार को पूज्य श्री की अंतिम यात्रा धूमधाम के साथ गाजियाबाद के कविनगर से निकाली जाएगी। ओम शांति। बुंदेलखंड की सकल जैन समाज की ओर से पूज्य श्री के चरणो में राजेन्द्र अटल परिवार की और से शत शत नमन।
About Atal R Jain 2013 Articles
सतत पत्रकारिता का 27 वां वर्ष... 1990-2008 ब्यूरो चीफ दैनिक भास्कर भोपाल, 2009-2014 रिपोर्टर साधना न्यूज मप्र-छग, 2011-2015 रिपोर्टर न्यूज एक्सप्रेस, 2012-से ब्यूरो चीफ जनजन जागरण भोपाल, 2013-2016 ब्यूरो चीफ ओम टीवी न्यूज, 2017 से atalnews24.co [महत्वपूर्ण घटनाक्रम-फोटो-वीडियों 9425095990 पर तत्काल वाटसअप करें ]

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.