छतरपुर.. रिश्वतखोर को नहीं मिली जमानत, 40 लाख की संपत्ति उजागर.. भोपाल, डिंडौरी में SDM आफिस में रिश्वतखोर पकड़े गए

SDM का रीडर रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया- मध्यप्रदेश में रिश्वतखोरी का ग्रहण भ्रष्ट अधिकारियों और कर्मचारियों के ऊपर पूरी तरह से असर दिखा रहा है। चंद्र ग्रहण से फरवरी माह की शुरुआत होने की बाद अभी सूर्य ग्रहण में समय है। परंतु उसके पहले ही रिश्वतखोरी के अनेक मामले रंगे हाथों उजागर हो चुकी चुके है। डिंडौरी में सोमवार को  लोकायुक्त टीम द्वारा 3 हजार की रिश्वत लेते हुए SDM के लीडर को गिरफ्तार किया गया। इसके द्वारा डायवर्सन से जुड़े मामले में 15 हजार रुपए की रिश्वत मांगी जा रही थी जिसकी शिकायत जबलपुर लोकायुक्त किए जाने के बाद आज कार्यवाही की गई। जानकारी के अनुसार, एसडीएम ऑफिस में पदस्थ रीडर दिलीप चौकसे को जबलपुर लोकायुक्त की टीम ने कार्रवाई करते तीन हजार रुपए लेते हुए ए रंगे हाथों पकड़ा। रीडर के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज करने के बाद  निजी मुचलके पर के पर रिहा कर दिया गया। SDM का बाबू रिश्वत लेते पकड़ा गया-भोपाल के गोविंदपुरा SDM मुकुल गुप्ता के ऑफिस में तिलक राजेंद्र राजपूत हो लोकायुक्त पुलिस ने 3000 रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा। दामखेड़ा के निवासी बालमुकुंद साहू की पत्नी मालती के नाम अयोध्या बाईपास पर 35 डिसमिल जमीन है। जिस पर ट्रांसपोर्ट का काम किया जाता है। जिसके लिए पूर्व में डायवर्सन कराया गया था परंतु डायवर्सन की राशि जमा नहीं की गई। इस मामले में 8 फरवरी को SDM ऑफिस से नोटिस मिलने के बाद बाबू राजेंद्र राजपूत 5000 रुपये में मामला रफा-दफा कर करने तैयार हो गया। जिसकी शिकायत लोकायुक्त से किए जाने के बाद सोमवार को उसे रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया।  नही मिली जमानत, 40 लाख की संपति मिली-   छतरपुर में 30 हजार की रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त द्वारा रविवार को पकड़े गए सहकारिता विभाग के निरीक्षक आर एन यादव जमानत नहीं मिल सकी। सोमवार को कार्यवाही पूरी करने के बाद लोकायुक्त द्वारा उसे कोर्ट में पेश किए जाने पर जेल भेज दिया गया। उल्लेखनीय है कि लोकायुक्त टीम ने रविवार को छतरपुर में सहकारिता विभाग के निरीक्षक आर एन यादव को भ्रष्ट समिति प्रबंधक जाहर सिंह से 30 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबोचा था। मामले में दूसरे आरोपी वरिष्ठ सहकारिता निरीक्षक आर के शर्मा के घर पर 2 दिन तक चली जांच में 40 लाख की संपत्ति उजागर हुई है। परंतु आर के शर्मा फिलहाल लोकायुक्त के हत्थे नहीं चढ़ सका है इसके खिलाफ भी लोकायुक्त द्वारा भ्रष्टाचार अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर तलाश की जा रही है
About Atal R Jain 1821 Articles
सतत पत्रकारिता का 27 वां वर्ष... 1990-2008 ब्यूरो चीफ दैनिक भास्कर भोपाल, 2009-2014 रिपोर्टर साधना न्यूज मप्र-छग, 2011-2015 रिपोर्टर न्यूज एक्सप्रेस, 2012-से ब्यूरो चीफ जनजन जागरण भोपाल, 2013-2016 ब्यूरो चीफ ओम टीवी न्यूज, 2017 से atalnews24.co [महत्वपूर्ण घटनाक्रम-फोटो-वीडियों 9425095990 पर तत्काल वाटसअप करें ]

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.