अजाक्स के बाद ब्राह्मण समाज ने आपत्ति जनक टिप्पणी के विरोध में ज्ञापन सौपा, कार्यवाही की मांग..

http://atalnews24.co
कलेक्टर एसपी को ज्ञापन देकर कार्यवाही की मांग- दमोह। सोशल मीडिया पर मिली अभिव्यक्ति की आजादी कभी कभी मर्यादाओं की सीमा को लांघते हुए बड़े विवाद की वजह बन जाती है। ऐसे मामलों में कार्यवाही की मांग करने वाले भी अतिउत्साह में इतना अधिक बोल जाते हैं जिससे दूसरे पक्ष की भावनाएं भी आहत होते देर नहीं लगती।   ऐसे ही कुछ हालात के चलते सोशल मीडिया पर टिप्पणी से शुरू हुआ विवाद दूसरे पक्ष की आपत्ति जनक टिप्पणी के बाद सामाजिक विषाद के हालात निर्मित कर दिए है। जिसके बाद दोनों पक्षों द्वारा ज्ञापन देकर पुलिस प्राथमिकी एवं कार्यवाही की मांग की जा चुकी है। सोशल मीडिया पर टिप्पणी से शुरू हुआ था विवाद- सामाजिक कार्यकर्ता तथा युवा ब्राम्हण समाज के नेता मनोज देवलिया लंबे समय से अपने साथियों के साथ चिकित्सा तथा शिक्षा के क्षेत्र में आरक्षण को खत्म किए जाने की मांग करते आ रहे हैं। इस बाबत उनके द्वारा पिछले दिनों पथरिया में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की सभा के दौरान भी प्रदर्शन करके ध्यान आकर्षण कराया गया था। इसके अलावा बुंदेलखंड क्षेत्र में ब्राह्मण समाज की बैठकों तथा  जागरूकता रथ  के माध्यम से भी चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में आरक्षण खत्म किए जाने का मामला लगातार जोर पकड़ता रहा है। अजाक्स संघ के पदाधिकारियों  के साथ अनुसूचित जाति  वर्ग के  अनेक संगठनों द्वारा 10 मार्च को कोतवाली पहुंच कर मनोज देवलिया एवं साथियों के खिलाफ सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने एवं जातिगत रूप से अपमानित करते हुए वर्ग विशेष धर्म विशेष को अभीत्रस्त कर विद्वेष फैलाने की प्राथमिकी दर्ज किए जाने की मांग की गई थी। ज्ञापन में बताया गया था कि मनोज देवलिया द्वारा सोशल मीडिया के जरिए सामाजिक विद्वेष फैलाया जा रहा है। जिसकी रिकॉर्डेड CD आदि भी अधिकारियों को सौंपी गई थी। मुख्यमंत्री गृहमंत्री मानव अधिकार आयोग सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को भेजे गए इस ज्ञापन में  एक दर्जन सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों द्वारा भी हस्ताक्षर करते हुए सहमति जताई गई थी। इसी दौरान कोतवाली परिसर में पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष कांग्रेस नेता तेजीराम रोहित द्वारा ब्राह्मण वर्ग को लेकर आपत्तिजनक भाषा का उपयोग करते हुए टिप्पणी की गई। जिसके सोशल मीडिया में पहुंचते ही ब्राह्मण वर्ग के लोगों के बीच में भी आक्रोश का माहौल बनते देर नहीं लगी। इसकी परिणीति स्वरूप मंगलवार को सर्व ब्राह्मण समाज के लोग मानस भवन परिसर में एकत्रित हुए तथा यहां से पैदल मार्च करते हुए कलेक्ट्रेट व SP ऑफिस के लिए रवाना हुए। कलेक्टर तथा एसपी को दिए गए ज्ञापन में ब्राह्मण समाज के पदाधिकारियों ने अपनी नाराजगी तथा आपत्ति दर्ज कराते हुए तेजी राम रोहित के खिलाफ FIR दर्ज किए जाने की मांग की है। उक्त हालात को कलेक्टर तथा एसपी ने गंभीरता से लेते हुए दोनों ही पक्षों के लोगों को जहां संयम बरतने की सलाह दी है वही जांच के बाद FIR एवं कार्यवाही किए जाने का भरोसा भी दिलाया है। SP विवेक अग्रवाल का कहना है दोनों आवेदनों की जांच की जा रही है तथा दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। व्यक्ति विशेष के कारण नहीं होना चाहिए सौहार्द्र भंग- दोनों पक्षों द्वारा पुलिस प्रशासन के अधिकारियों को ज्ञापन देकर एक दूसरे पक्ष के व्यक्ति विशेष के खिलाफ FIR दर्ज किए जाने की मांग के बाद अब गेंद पुलिस प्रशासन के पाले में है। उम्मीद की जा रही है कि जांच के दौरान दोषी पाए जाने पर प्रशासन नियम अनुसार कार्यवाही करने से पीछे नहीं हटेगा। उक्त हालात में जिस तरह से शहर के सामाजिक सद्भाव में खटास का माहौल बना है उसे भी जल्द समाप्त करने की जिम्मेदारी भी अब हम सभी की है। वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारीयो व जन प्रतिनिधियों को भी चाहिए कि विद्वेष के माहौल को जल्द समाप्त करने आवश्यक पहल की जाए। हो सके तो सभी पक्षों की एक बैठक का आयोजन शांति कमेटी की तर्ज पर करके इस गंभीर मसले का हल निकालने का प्रयास किया जाए। जिससे शहर की गंगा जमुनी संस्कृति वाली फिजा मैं घुल रहा विषाद का प्रदूषण खत्म हो सके। अटल राजेंद्र जैन की रिपोर्ट
http://atalnews24.co
About Atal R Jain 2172 Articles
सतत पत्रकारिता का 27 वां वर्ष... 1990-2008 ब्यूरो चीफ दैनिक भास्कर भोपाल, 2009-2014 रिपोर्टर साधना न्यूज मप्र-छग, 2011-2015 रिपोर्टर न्यूज एक्सप्रेस, 2012-से ब्यूरो चीफ जनजन जागरण भोपाल, 2013-2016 ब्यूरो चीफ ओम टीवी न्यूज, 2017 से atalnews24.co [महत्वपूर्ण घटनाक्रम-फोटो-वीडियों 9425095990 पर तत्काल वाटसअप करें ]

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.