गढ़ाकोटा.. गुंडों पर बेअसर CM के निर्देश.. छेड़छाड़ का विरोध करने पर नाबालिग के साथ पिता व रिश्तेदारों को भी मारा, पुलिस बता रही आपसी विवाद

http://atalnews24.co
छेड़छाड़ का विरोध करने पर नाबालिग से मारपीट- गढ़ाकोटा, सागर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा छेड़खानी, गुंडागर्दी, ज्यादती पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस को दी गई खुली छूट का असर ग्रामीण इलाकों में बेअसर साबित होता नजर आ रहा है। प्रदेश के कद्दावर मंत्री गोपाल भार्गव के विधानसभा क्षेत्र में एक नाबालिक के साथ छेड़छाड़ के बाद मारपीट किए जाने तथा उसे बचाने पहुंचे परिजनों पर भी बदमाशों द्वारा हमला किए जाने का घटनाक्रम सामने आया है।  घायल नाबालिक को हंड्रेड डायल से गढ़ाकोटा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लाया गया। जहां वह वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों के नाम चीख-चीखकर बताती रही। परंतु 2 घंटे तक पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की। बाद में जब थाना प्रभारी पहुंचे तब लड़की तथा उसके पिता अपने पहले के बयानों से बचते नजर आए। गढाकोटा थाना अंतर्गत ग्राम रोन में मंगलवार की शाम एक लड़की के साथ करीब आधा दर्जन युवकों द्वारा मारपीट किए जाने का घटनाक्रम सामने आया है। पीड़िता का कहना है कि यह बदमाश उसके साथ छेड़छाड़ कर जबरदस्ती का प्रयास कर रहे थे। जिस का विरोध करने पर मारपीट कर हथियारों से हमला किया गया। बदमाश प्रहलाद धर्मेद, जित्तू, बृजेश अहिरवार आदि बताए जा रहे हैं।  मंगलवार को इस नाबालिक के परिजन हनुमंता माता के दर्शन वह भंडारे में शामिल होने गए थे। लड़की के अकेले होने का फायदा उठाते हुए यह बदमाश शराब के नशे में घर के पास पहुचे और नल पर जबरदस्ती करने लगे। जिसका विरोध करने पर एक बदमाश ने लड़की के सिर में धारदार हथियार से प्रहार कर घायल कर दिया। इस दौरान पीड़िता के पिता हजारी अहिरवार घर के पास पहुंचे तो घायल लड़की को उठाते समय इन बदमाशों ने उनके सिर में भी धारदार हथियार से प्रहार किया। जिससे वो भी घायल हो गए। हनुमंता माता के भंडारे में आये लड़की के मामा दीपक, सुनील, मामी नीता अहिरवार भी घर पहुंचे तो इन उनके साथ भी बदमाशों ने मारपीट की। बाद में सभी घायलो को 100 डायल से स्वास्थ्य केंद्र गढाकोटा लाया गया। जहां घायलों का उपचार किया जा रहा है। डायल 100 पर प्रधान आरक्षक पूरनलाल ने बताया कि लड़की के सिर में चोट होने के कारण एवं अन्य घायलों को आरक्षक दिनेश सिंह व पायलेट हरिओम कुर्मी की मदद से शासकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया है। स्वास्थ्य केंद्र में लड़की अपने साथ हुई वारदात को आरोपियों के नाम लेकर खुल कर बताती रही। परंतु थाना प्रभारी के हाई कोर्ट पेशी पर जाने की वजह से पुलिस स्टाफ रिपोर्ट दर्ज करने से बचता रहा। इस दौरान पीड़िता के परिजनों को बदनामी का भय दिखाकर  घटना को आपसी विवाद का रूप देने के प्रयास में भी तथाकथित लोग जुट गए। दो घण्टे बाद  पीड़िता तथा उसके परिजन खुलकर कुछ भी कहने से बचने लगे।  जबकि अस्पताल में उनके द्वारा दिए  बयान अनेक टीवी चैनलों की सुर्खियां बन चुके थे।  इसके बाद रात 9 बजे जब थाना प्रभारी आर एन तिवारी मीडिया के सामने आए तो उनका कहना था दो पक्षों में विवाद के दौरान बीच बचाव में लड़की घायल हुई है। एक पक्ष के 4 लोग तथा दूसरे पक्ष के तीन लोग घायल हुए हैं। जबकि पूर्व में लड़की तथा उसके पिता एवं रिश्तेदारों ने जो बयान अस्पताल में दिए थे वह मीडिया के कैमरों में दर्ज हो जाने से घटनाक्रम की असलियत को उजागर करते नजर आए। अटल राजेंद्र जैन की रिपोर्ट
http://atalnews24.co
About Atal R Jain 2303 Articles
सतत पत्रकारिता का 27 वां वर्ष... 1990-2008 ब्यूरो चीफ दैनिक भास्कर भोपाल, 2009-2014 रिपोर्टर साधना न्यूज मप्र-छग, 2011-2015 रिपोर्टर न्यूज एक्सप्रेस, 2012-से ब्यूरो चीफ जनजन जागरण भोपाल, 2013-2016 ब्यूरो चीफ ओम टीवी न्यूज, 2017 से atalnews24.co [महत्वपूर्ण घटनाक्रम-फोटो-वीडियों 9425095990 पर तत्काल वाटसअप करें ]

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.