नौकरी का लालच देकर छतरपुर में छात्रा की अस्मत लुटवाने वाली.. सेक्स रैकेट सरगना के खिलाफ ग्वालियर में FIR

सेक्स रैकेट सरगना संतोषी पर एक और FIR दर्ज- छतरपुर में नौकरी का झांसा देकर ग्वालियर की एक छात्रा की इज्जत से खिलवाड़ कराए जाने के मामले में एक सेक्स रैकेट सरगना के खिलाफ आखिरकार FIR दर्ज कर ली गई है  शून्य पर  कायम किए गए  इस अपराध की डायरी  जल्द ही  ग्वालियर पुलिस द्वारा  छतरपुर भेज दी जाएगी। इस वारदात को दो बदमाशों ने अंजाम दिया था। तथा पीडि़त छात्रा को दो दिन तक बंधक बना कर एक घर में रखा गया था। छतरपुर में 11 और 12 अप्रैल की रात  दुराचार की शिकार हुई छात्रा 13 अप्रैल को वहां से भाग निकली। इसके बाद वह अपने घर ग्वालियर पहुंची जहां परिजनों को घटना की जानकारी दी तथा सोमवार को महिला थाने में उसकी शिकायत पर छतरपुर की चर्चित  सेक्स वर्कर सरगना पर मामला दर्ज कर लिया गया है। ग्वालियर महिला थाना प्रभारी शैलजा गुप्ता ने बताया बीस वर्षीय बीएससी की छात्रा अपनी मां के साथ रहती है। मां घरों में जाकर साफ सफाई का काम करती है। छात्रा अक्सर अपनी मां के साथ लेडिज पार्क में टहलने जाती है। यहां पर उसकी मुलाकात शिवानी नामक युवती से हुई। दो तीन बार बाते होने पर छात्रा ने उससे कही जॉब दिलाने की बात कही। इस पर शिवानी ने छात्रा को छतरपुर की रहने वाली संतोषी नामक महिला का नंबर दे दिया। साथ ही बताया कि उनके यहां पर कम्प्यूटर कार्य के लिए जगह है और वो वहां काम कर चुकी है। जॉब का पता चलते ही पीडि़ता ने संतोषी तिवारी के नंबर पर 8 अप्रैल को शिवानी का रिफरेंस देकर कॉल किया। सन्तोषी ने पीडि़त को छतरपुर आने को कहा। जिस पर 11 मार्च को पीडि़त शाम करीब 5 बजे छतरपुर पहुंची और संतोषी को 9893997725 मोबाइल नंबर पर कॉल किया। संतोषी ने उसे लेने किसी रक्कू नाम के युवक को भेजा जो पीडि़त को संतोषी के घर ले गया। घर पहुंचने पर संतोषी ने उससे बातचीत की, उसके बाद उसे खाना खिलाने के बाद उसे ऊपरी मंजिल में बने कमरे में सोने भेज दिया। रात करीब साढ़े 11 बजे जब वह सो रही थी तो मुस्ताक वहां पहुंचा, जिसके हाथ में पिस्टल थी। युवक ने कमरे में आते ही उसके साथ गलत हरकत करना शुरू कर दिया। जब उसने विरोध करते हुए शोर मचाया तो संतोषी भी वहां पर पहुंची ओर उसे सहयोग करने को कहा। जब छात्रा ने उसका विरोध किया तो युवक ने उसका गला दबाते हुए कनपटी पर पिस्टल अड़ा दी। छात्रा ने बताया कि वह मुस्ताक और संतोषी के आगे गिड़गिड़ाती रही, उनके पैरों में गिरकर आंसु बहाती रही, लेकिन उनका दिल नहीं पसीजा और मुस्ताक ने उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। इस दौरान दंरिदे ने उसका गला दबाने का प्रयास किया। जिससे उसके नााखून गले पर लगे। वारदात के बाद संतोषी ने छात्रा के कमरे के बाहर पहरा लगा दिया। छात्रा अपनी बेबसी पर रोती रही। लेकिन उसकी कोई भी सुनने वाला नहीं था। जबकि उसके आस-पास के कमरों में अन्य युवतियां भी रह रहीं थी। दिन भर न उसने खाना खाया और न ही पानी पिया। 12 अप्रैल की रात उसके कमरे में रक्कू नामक युवक पहुंचा। रक्कू ही उसे बस स्टैण्ड से संतोषी के घर पर लेकर आया था। उसके आने पर वह उसके पैरों में गिर कर मदद की गुहार की। उसने उसे मदद का आश्वासन दिया और उसने भी जबरन उसके साथ दुष्कर्म किया। मौका मिला और निकल भागी-13 अप्रैल की सुबह जब उसकी आंख खुली तो दरवाजे पर पहरा देेने वाले वहां पर नहीं थे। वह चुपचाप बाहर आई तो एक युवती कमरे के पास ही मोबाइल पर बाते कर रही थी। उसका ध्यान दूसरी तरफ था। इसका फायदा उठा कर वह बाहर आई और लोगों से बस स्टैण्ड का रास्ता पूछते हुए भाग निकली। यहां पर झांसी के लिए बस निकल रही थी और वह उसमें सवार हो गई। केद्रीय मंत्री उमा भारती ने की मदद-झांसी स्टैंड पहुंचने पर जब वह रो रही थी तो राहगीरों ने उससे कारण पूंछा। राहगीरों ने पीडि़ता को ढांढस देकर उसे पास ही केंद्रीय मंत्री उमा भारती के कार्यक्रम के बारे में जानकारी देकर उन्हें अपनी व्यथा सुंनाने की बात कही। पीडि़त युवती उमाजी से मिली पर जल्दी निकलते हुए उन्होंने झांसी के राहुल राजपूत नामक युवक से युवती की मदद करने को कहा। युवती ने पुलिस को बताया कि महिला उसे सैक्स रैकट में उतारना चाहती थी। जिस मकान में युवती को कैद किया गया था उस मकान में करीब आधा दर्जन लड़कियां और थी। मामले में खास यह है कि महिला संतोषी तिवारी सालों से सेक्स रैकेट चला रही है। कई बार उस पर कार्यवाई हुई पर वो बच निकली। जहां युवती को कैद कर रखा गया था वो इलाका विश्वनाथ कॉलोनी के नाम से जाना जाता है। यहां वर्ष 2013 में पुलिस ने संतोषी के घर पर कार्यवाई कर बड़ा रैकेट पकड़ा था। छतरपुर से लखन सिंह राजपूत की रिपोर्ट
About Atal R Jain 2007 Articles
सतत पत्रकारिता का 27 वां वर्ष... 1990-2008 ब्यूरो चीफ दैनिक भास्कर भोपाल, 2009-2014 रिपोर्टर साधना न्यूज मप्र-छग, 2011-2015 रिपोर्टर न्यूज एक्सप्रेस, 2012-से ब्यूरो चीफ जनजन जागरण भोपाल, 2013-2016 ब्यूरो चीफ ओम टीवी न्यूज, 2017 से atalnews24.co [महत्वपूर्ण घटनाक्रम-फोटो-वीडियों 9425095990 पर तत्काल वाटसअप करें ]

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.